My Shayari Online

A Blog about Love, Romantic, Sad, Dard Bhari, Funny, Shayari on Love and Life for Boys, Girls, Friends and Festival Shayari

Wednesday, September 5, 2018

Best Whatsapp, FB Shayari in Hindi

Best Shayari in Hindi - We have made a lot of collections about Love Shayari, Motivational Shayari, Yaad Shayari, Sad Shayari etc. so today we have combined all of them and made a collection for the best hindi shayari.

Best Whatsapp and FB Shayari in Hindi

You can share these best of hindi shayari with your friends on whatsapp, facebook messenger and also post them on your social profiles and tag all your friends there.

Sharabi Shayari


अब तो उतनी भी मयस्सर नहीं मय-ख़ाने में
जितनी हम छोड़ दिया करते थे पैमाने में

Ab To Utni Bhi Mayassar Nahi
Jitni Ham Chod Diya Karte The Paimane Me

Yaad aur Jhakham Shayari


अब ना मैं हूँ, ना बाकी हैं ज़माने मेरे​
फिर भी मशहूर हैं शहरों में फ़साने मेरे​
ज़िन्दगी है तो नए ज़ख्म भी लग जाएंगे​
अब भी बाकी हैं कई दोस्त पुराने मेरे
Attitude Shayari

Ab Na Mein Hun, Naa Baki Hai Jamane Mere
Phir Bhi Mashoor Hai Sehar Mein Fasane Mere
Zindagi Hai To Naye Jakham Bhi Lag Jayenge
Ab Bhi Baaki Hai Kai Dost Purane Mere

Wafa bewafa shayari


वफा माथे पर लट लहराती है
चूड़ी की खनक बुलाती है
रुखसारों पे है हया न का पर्दा
चाहत फिर भी उसे सताती है

Wafa Mathe Par Lat Lehrati Hai
Chudi Ki Khanak Bulati Hai
Rukhsaaro Par Hao Haya Na Ka Parda
Chahat Fir Bhi Use Satati Hai

kal aaj aur kal shayari


कल खो दिया आज के लिये
आज खो दिया कल के लिये
कभी जी ना सके हम आज आज के लिये
बीत रही है जिदंगी.. कल आज और कल के लिये
Romantic Shayari

Kal Kho Diya Aaj Ke Liye
Aaj Kho Diya Kal Ke Liye
Kabhi Naa Jee Sake Aaj Aaj Ke Liye
Beet Rahi Hai Zindagi Kal Aaj Aur Kal Ke Liye

Waqt Aur Sabr Shayari


बस यही दो मसले, ज़िन्दगी भर ना हल हुए
ना नींद पूरी हुई, ना ख्वाब मुकम्मल हुए
वक़्त ने कहा काश थोड़ा और सब्र होता
सब्र ने कहा काश थोड़ा और वक़्त होता

Bas Yahi Do Masle Naa Zindagi Bhar Hal Huye
Naa Neend Puri Huyi Naa Khwaab Mukamal Huye
Waqt Ne Kaha Kaash Thoda Aur Sabr Hota
Sabr Ne Kaha Kaash Thoda Aur Waqt Hota

Mirza Ghalib Shayari


रगों में दौड़ते फिरने के हम नहीं क़ाइल
जब आँख ही से न टपका तो फिर लहू क्या है
Mirza Ghalib Urdu Shayari

Rago Me Daudte Firne Ke Hum Nahi Kayal
Jab Aankh Hi Se Na Tapka To Fir Lahu Kya Hai

Bhoolane Wali Shayari


ना भूला न भूलूँगा तुमको कभी
तुम्हे दिल में बसाया है मैंने सनम
तुम न देना कभी अश्क मुझको यहाँ
बहुत खुद को रूलाया है मैंने सनम

Naa Bhoola Naa Bhoolunga Tumko Kabhi
Tumko Dil Me Basaya Hai Maine Sanam
Tum Naa Dena Ashk Mujhko Yaha
Bahut Khud Ko Rulaya Hai Maine Sanam

Mahobbat Ki Shayari


दूर बैठे रहोगे, पास न आओगे कभी
ऐसे रूठोगे तो जान ले जाओगे कभी
शोले बन जायेगें सभी फूल मेरे आंचल के
तुम जो मोहब्बत की घटा बनके न छाओगे कभी
Good Night Shayari

Dur Baithe Rahoge Paas Na Aaoge Kabhi
Aise Ruthoge To Jaan Le Jaaoge Kabhi
Shole Ban Jayenge Sabhi Phool Mere Aanchal Ke
Tum Jo Mahobbat Ki Ghata Ban Ke Naa Chaaoge Kabhi

Baho Me Muskurana Shayari


एक पल के लिए जब तू पास आता है
मेरा हर लम्हा ख़ास बन जाता है
सँवरने सी लगती है ये ज़िन्दगी अपनी
जब भी तू मेरी बाहों में मुस्कुराता है

Ek Pal Ke Liye Jab Tu Paas Aata Hai
Mera Har Lamha Khaas Ban Jata Hai
Savarne Si Lagti Hai Ye Zindagi Apni
Jab Bhi Tu Meri Baaho Me Muskurata Hai

Mom aur Pathar Shayari


कश्ती के मुसाफिर ने समन्दर नहीं देखा
आँखों को देखा पर दिल मे उतर कर नहीं देखा
पत्थर समझते है मेरे चाहने वाले मुझे
हम तो मोम है किसी ने छूकर नहीं देखा

Kashti Ke Musafir Ne Samandar Nahi Dekha
Aankho Ko Dekha Par Dil Me Utar Kar Nahi Dekha
Pathar Samajhte Hai Mere Chahne Wale Mujhe
Hum To Mom Hai Kisi Ne Chu Kar Nahi Dekha

So these were all about best Whatsapp Shayari in Hindi, how was the collection comment about it and also read our other collections at myshayari.online

No comments:

Post a Comment

Don't share Links, Otherwise your comment will be removed and will be marked as spam