Heart Touching Shayari for Maa, Maa ki Mamta Shayari


सभी को सुप्रभात! हम आज यहां हमारी जिंदगी के सबसे प्यारे और महत्वपूर्ण व्यक्ति माँ को धन्यवाद करने के लिए मौजूद हैं। माँ के बिना हम में से कोई अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकता। इतना दर्द और पीड़ा सहकर हमें इस खूबसूरत दुनिया में लाने के लिए हम सब उसके शुक्रगुज़ार हैं। माँ सबसे प्यारी और पूजनीय इंसान है। दुनिया में किसी भी तरह का प्यार माता-पिता द्वारा किये गए प्रेम की बराबरी नहीं कर सकता। माँ, जिसे भगवान से कम नहीं आँका जा सकता, अपने बच्चे की सबसे अच्छी प्रशिक्षक और मार्गदर्शिका होती है। माँ ही वह पहली शख्स होती है जिसे हम अपनी ख़ुशी में सबसे पहले याद करते हैं।  Best True Love Shayari

Maa ki Mamta Shayari

हमने उस माँ की आकृति पर एक चयन किया है जो अब एक छवि, अब एक रूपक और अब एक मिथक के रूप में उभरती है। अपने बच्चे के लिए एक माँ का प्यार दुनिया में कुछ और नहीं है। यह कोई कानून नहीं जानता, कोई दया नहीं करता, यह सभी चीजों को तारीख करता है और पश्चाताप करता है कि यह अपने रास्ते में खड़ा है।    Shayari On Bachpan ki Yaaden

Maa per Shayari in Hindi.

सबकुछ मिल जाता है दुनिया में मगर
याद रखना की बस माँ-बाप नहीं मिलते
मुरझा कर जो गिर गए एक बार डाली से
ये ऐसे फूल हैं जो फिर नहीं खिलते

Sab Kuchh Mil Jata Hai Duniya Mein Magar
Yaad Rakhna Ki Bas Maa-Baap Nahi Milte
Murjha Kar Jo Gir Jaaye Ek Baar Dali Se
Yeh Aise Phool Hain Jo Phir Nahi Khilte

गरीब हूँ किसी ज़रदार से नहीं मिलता
जमीर बेच कर किसी मक्कार से नहीं मिलता
जो हो सके तो इसको संभाल कर रखना
ये माँ का प्यार है बाजार में नहीं मिलता

Garib hu kisi jardar se nahi milta
Jamir beach kar kisi makkar se nahi milta
Jo ho sake to isko sambal kar rakhna
Ye ma ka pyar hai bajar me nahi milta

बंद किस्मत के लिये कोई चाभी नही होती
सुखी के उम्मीदों की कोई डाली नही होती
जो झूक जाए माँ -बाप के चरणों में
उसकी झोली कभी खाली नही होती
Punjabi Love Shayari for Whatsapp

Band kismat ke lia koi chabi nahi hoti
Sukhi ke ummido ki koi dali nahi hoti
Jo jukh jae ma bap ke charno me
Uski jholi kabhi khali nahi hoti

हमारे कुछ गुनाहों की सज़ा भी साथ चलती है
हम अब तन्हा नहीं चलते दवा भी साथ चलती है
अभी ज़िन्दा है माँ मेरी मुझे कुछ भी नहीं होगा
मैं जब घर से निकलता हूँ दुआ भी साथ चलती है

Hamaare kuchh gunaahon kee saza bhee saath chalatee hai
Ham ab tanha nahin chalate dava bhee saath chalatee hai
Abhee zinda hai maan meree mujhe kuchh bhee nahin hoga
Main jab ghar se nikalata hoon dua bhee saath chalatee hai

माँ तेरी याद सताती है मेरे पास आ जाओ
थक गया हूँ मुझे अपने आँचल में सुलाओ
उँगलियाँ फेर कर बालों में मेरे एक बार
फिर से बचपन की लोरियाँ सुनाओ

Maan teree yaad sataatee hai mere paas aa jao
Thak gaya hoon mujhe apane aanchal mein sulao
Ungaliyaan pher kar baalon mein mere ek baar
Phir se bachapan kee loriyaan sunao

Maa ka Pyar Shayari Collection.

रूह के रिश्तों की ये गहराइयाँ तो देखिये
चोट लगती है हमें और चिल्लाती है माँ
हम खुशियों में माँ को भले ही भूल जायें
जब मुसीबत आ जाए तो याद आती है माँ

Rooh Ke Rishto Ki Yeh Gehraiyan To Dekhiye
Chot Lagti Hai Humein Aur Chillati Hai Maa
Hum Khushiyon Mein Maa Ko Bhale Bhi Bhool Jayein
Jab Musibat Aa Jaye Toh Yaad Aati Hai Maa

माँ की अजमत से अच्छा जाम क्या होगा
माँ की खिदमत से अच्छा काम क्या होगा
खुदा ने रख दी हो जिस के कदमों में जन्नत
सोचो उसके सर का मुकाम क्या होगा
Best Friend Shayari for Whatsapp

Maa Ki Ajmat Se Achchha Jaam Kya Hoga
Maa Ki Khidmat Se Achchha Kaam Kya Hoga
Khuda Ne Rakh Di Ho Jis Ke Kadmo Mein Jannat
Socho Uske Sar Ka Mukaam Kya Hoga

कही हो जाये ना घर की मुसीबत लाल को मालूम
छुपा कर तकलीफें तेरा मुस्कुराना याद आता है
जब आये थे तुझे हम छोड़ कर परदेश मेरी माँ
मुझे वो तेरा बहुत आंसू बहाना याद आता है

Kahee ho jaaye na ghar kee museebat laal ko maaloom
Chhupa kar takaleephen tera muskuraana yaad aata hai
Jab aaye the tujhe ham chhod kar paradesh meree maan
Mujhe vo tera bahut aansoo bahaana yaad aata hai

माँ की दुआ कभी खाली नहीं जाती
माँ की बात कभी टाली नहीं जाती
अपने सब बच्चे पाल लेती है बर्तन धोकर
और बच्चों से एक माँ पाली नहीं जाती

Maa kee dua kabhee khaalee nahin jaatee
Maa kee baat kabhee taalee nahin jaatee
Apane sab bachche paal letee hai bartan dhokar
Aur bachchon se ek maan paalee nahin jaatee

माँ ना होती तो वफ़ा कौन करेगा
ममता का हक़ भी कौन अदा करेगा
रब हर एक माँ को सलामत रखना
वरना हमारे लिए दुआ कौन करेगा

Maa na hotee to vafa kaun karega
Mamata ka haq bhee kaun ada karega
Rab har ek maa ko salaamat rakhana
Varana hamaare lie dua kaun karega

Best Shayari for Maa.

क्यों भूल जाते है हम उस माँ को वक़्त के साथ साथ
नहीं रहता हमको उनका कोई ख्याल
क्या होता होगा उस माँ के दिल का हाल
जिसने हमारे लिए भुला दिया अपना हर एक ख्वाब

Kyon bhool jaate hai ham us maa ko vaqt ke saath saath
Nahin rahata hamako unaka koee khyaal
Kya hota hoga us maa ke dil ka haal
Jisane hamaare lie bhula diya apana har ek khvaab

कोई दुआ असर नहीं करती
जब तक वो हम पर नजर नहीं करती
हम उसकी खबर रखे न रखे
वो कभी हमें बेखबर नहीं करती
Two Lines Sad Whatsapp Shayari

Koi Dua Asar Nahin Karati
Jab Tak Wo Ham Par Najar Nahin Karti
Ham Uski Khabar Rakhe Na Rakhe
Wo Kabhi Hamen Bekhabar Nahin Karti

ठोकर न मार मुझे पत्थर नहीं हूँ मैं
हैरत से न देख मुझे मंज़र नहीं हूँ मैं
तेरी नज़रों में मेरी क़दर कुछ भी नहीं
मगर मेरी माँ से पूछ उसके लिए क्या नहीं हूँ मैं

Thokar Na Maar Mujhe Patthar Nahi Hun Main
Hairat Se Na Dekh Mujhe Manzar Nahi Hun Main
Teri Nazaron Me Meri Kadar Kuch Bhi Nahi
Magar Meri Maa Se Pooch Uske Liye Kya Nahi Hun Main

हँसकर मेरा हर गम भुलाती है माँ
मैं रोता हूँ तो सीने से लगाती है मा
बहुत दर्द दिया है इस ज़माने ने मुझको
सबकुछ झेलकर जीना सिखाती है माँ

Hansakar mera har gam bhulaatee hai maa
Main rota hoon to seene se lagaatee hai maa
Bahut dard diya hai is zamaane ne mujhako
Sabakuchh jhelakar jeena sikhaatee hai maa

ये जो सख्त रस्तो पे भी आसान सफ़र लगता हे
ये मुझ को माँ की दुआओ का असर लगता हे
एक मुद्दत हुई मेरी मां नही सोई तबिश
मेने एक बार कहा था के मुझे डर लगता हे

Ye jo sakht rasto pe bhee aasaan safar lagata he
Ye mujh ko maa kee duao ka asar lagata he
Ek muddat huee meree maa nahee soee tabish
Mene ek baar kaha tha ke mujhe dar lagata he

Maa ki Yaad Shayari.

जब भी मेरे होंटो पर झूटी मुस्कान होती है
माँ को न जाने कैसे छिपे हुए दर्द की पहचान होती है
सर पर हाथ फेर कर दूर कर देती है परेशानिया
माँ के भावनाओ मे बहुत जान होती है

Jab bhee mere honto par jhootee muskaan hotee hai
Maa ko na jaane kaise chhipe hue dard kee pahachaan hotee hai
Sar par haath pher kar door kar detee hai pareshaaniya
Maa ke bhaavanao me bahut jaan hotee hai

दिन की रौशनी ख्वाबो को बनाने मे गुजर गयी
रात की नींद बच्चे को सुलाने मे गुजर गयी
जिस मकान मे तेरे नाम की तख्ती भी नहीं है
सारी उम्र उस मकान को बनाने मे गुजर गयी
Emotional Love Shayari

Din Ki Roshni Khwabon Ko Banane Mein Gujar Gayi
Raat Ki Neend Bachche Ko Sulane Mein Gujar Gayi
Jis Makaan Mein Tere Naam Ki Takhti Bhi Nahi Hai
Saari Umar Uss Makaan Ko Banane Mein Gujar Gayi

हमारे कुछ गुनाहों की सज़ा भी साथ चलती है
हम अब तन्हा नहीं चलते दवा भी साथ चलती है
अभी ज़िन्दा है माँ मेरी मुझे कुछ भी नहीं होगा
मैं जब घर से निकलता हूँ दुआ भी साथ चलती है

Humare Kuch Gunahon Ki Saza Bhi Sath Chalti Hai
Hum Ab Tanha Nahin Chalte Dava Bhi Sath Chalti Hai
Abhi Zinda Hai Maa Meri Mujhe Kuch Bhi Nahin Hoga
Main Jab Ghar Se Nikalta Hun Dua Bhi Sath Chalti Hai

जिँदगी‬ की पहली ‪Teacher‬ ‎माँ‬
जिँदगी की पहली ‪Friend‬ माँ
‪Jindagi‬ भी माँ ‎क्योँकि‬
‎Zindagi‬ देने वाली भी माँ

Jindagee‬ kee pahalee ‪taiachhair‬ ‎maa
Jindagee kee pahalee ‪friaind‬ maa
‪Jindagi‬ bhee maan ‎kyonki‬
‎Zindagi‬ dene vaalee bhee maa

माँ ने तो उम्र भर संभाला ही था
हमे तो ज़िंदगी ने रुलाया ही है
कहा से पड़ती काँटों की आदत हमे
माँ ने हमेशा अपनी गोद मे सुलाया है

Maa ne to umr bhar sambhaala hee tha
Hame to zindagee ne rulaaya hee hai
Kaha se padatee kaanton kee aadat hame
Maa ne hamesha apanee god me sulaaya hai

Maa ki Mamta Shayari.

हैरान हो जाता हूँ मैं अक़्सर
देखकर खुदाओं के दर पे हुजूम
माँ, तेरी गोद में मुझे
जन्नत का एहसास होता है

< Hairaan Ho Jaata Hoon Main Aqsar
Dekhkar Khudaon Ke Dar Pe Hujoom
Maa, Teri God Mein Mujhe
Jannat Ka Ehsaas Hota Hai

माँ पहले आँसू आते थे
तो तुम याद आती थी
आज तू याद आती हो
और आँसू निकल जाते हैं
Romantic Love Shayari

Maa Pehle Aansu Aate The
To Tum Yaad Aati Thi
Aaj Tum Yaad Aati Ho
Aur Aansu Nikal Aate Hai

दिन की रौशनी ख्वाबो को बनाने मे गुजर गयी
रात की नींद बच्चे को सुलाने मे गुजर गयी
जिस घर मे तेरे नाम की तख्ती भी नहीं है
साड़ी उम्र उस घर को बनाने मे गुजर गयी

Din Ki Roshni Khwabon Ko Banane Me Gujar Gayi
Raat Ki Neend Bachche Ko Sulane Me Gujar Gayi
Jis Ghar Me Tere Naam Ki Takhti Bhi Nahi Hai
Saari Umar Uss Ghar Ko Banane Me Gujar Gayi

माँ” की एक दुआ जिन्दगी बना देगी
खुद रोएगी मगर तुम्हे हँसा देगी
कभी भुल के भी ना “माँ” को रूलाना
एक छोटी सी गलती पूरा अर्श हिला देगी

Maa” kee ek dua jindagee bana degee
Khud roegee magar tumhe hansa degee
Kabhee bhul ke bhee na “maa” ko roolaana
Ek chhotee see galatee poora arsh hila degee

जब भी गंदा होता हूँ मैं वो साफ़ कर देती है
अपनी हर संतान के साथ इन्साफ कर देती है
नाराज होना तो फितरत होते है औलादो
माँ से जब भी माफ़ी मांगो हर खता माफ़ कर देती है

Jab bhee ganda hota hoon main vo saaf kar detee hai
Apanee har santaan ke saath insaaph kar detee hai
Naaraaj hona to phitarat hote hai aulaado
Maa se jab bhee maafee maango har khata maaf kar detee hai

आप अपने विचारों में वास्तव में कभी अकेले नहीं हैं। एक माँ को हमेशा दो बार सोचना पड़ता है, एक बार खुद के लिए और एक बार अपने बच्चे के लिए। फिर इन हार्दिक उद्धरणों में से एक को इस योग में जोड़ें कि वह आपके लिए कितना मायने रखता है। दुनिआ में सबसे प्यारा रिश्ता माँ से होता है बाकि सब रिश्ते तो हमारे पैदा होने के बाद बनते है पर एक माँ से ऐसा रिश्ता है जो हमारे पैदा होने से पहले ही बन जाता है| दोस्तों उम्मीद है के आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आएगी और हम आगे भी आपके लिए ऐसी ही अच्छी पोस्ट लेकर आते रहेंगे आपको हमारी पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट में जरूर बताए और आगे भी ऐसी अच्छी पोस्ट पढ़ने के लिए हमारे होम पेज पर जरूर विजिट करे

Post a Comment

0 Comments